भारत में कई जगह पर सूर्य ग्रहण ख़त्म हो चूका है, जानिए ग्रहण से सम्बंधित बाते

बता दे की नग्न आँखों से नहीं देखना चाहिए ,क्योंकी सूर्य की हानिकारक किरणो से आँखों को काफी नुकसान पहुँच सकता है।

सूर्य ग्रहण june 2020 :

देश के कई शहरो में सूर्य ग्रहण का बहुत ही अद्भुत नजारा देखने को मिला। भारत के कई शहरो में ग्रहण की समाप्ति हो चुकी है। जब भी ग्रहण की बात आती है तो हम सबके मन में एक ही सवाल आता है की सूर्य ग्रहण में क्या करना चाहिए और क्या नहीं। लेकिन इसके अलावा यह भी एक महत्वपूर्ण बात है की क्या हमे नग्न आँखों से सूर्य ग्रहण को देखना चाहिए ? बता दे की नग्न आँखों से नहीं देखना चाहिए ,क्योंकी सूर्य की हानिकारक किरणो से आँखों को काफी नुकसान पहुँच सकता है,ऐसा हमारे विशेषज्ञों का मानना है। कई बार हमारे अंधापन का कारण बन सकती है सूर्य ग्रहण को नग्न आँखों से देखना। सूर्य ग्रहण को हमे सोलर फ़िल्टर गिलास वाले चश्मे से ही देखना चाहिए।

सूर्य ग्रहण में क्या-क्या करना चाहिए और क्या-क्या नहीं करना ?

  1. ऐसा मन जाता है की सूर्य ग्रहण के मधय बुरी शक्तियों का प्रभाव बढ़ जाता है , इसलिए इस दौरान हमे भगवन का ध्यान करना चाहिए।
  2. सूर्य ग्रहण को नग्न आँखों से नहीं देखना चाहिए।
  3. सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिला को घर से बहार नै निकलना चाहिए। ऐसा करना गर्भ में पल रहे बच्चे के सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है, साथ ही बचे शारीरिक और मानसिक रूप से बहुत ही प्रभावित करता है ग्रहण।
  4. सूर्य ग्रहण के दौरान न ही खाना बनाना चाहिए और न ही खाना चाहिए।
  5. सूर्य ग्रहण के दौरान नुकिली चीज़ो का इस्तेमाल भी नहीं करना चाहिए।
  6. ग्रहण के पश्चात मन की शुद्धि के लिए दान पुण्य भी करना चाहिए।

ग्रहण के समय के बाद इन सभी कार्यो से पुण्यकर्म की प्राप्ति होती है।

ग्रहण के पश्चात् गाय को भोजन , चिड़ियों को दाना ,जरुरतमंदो को जरुरत की सामग्री देने से बहुत पुण्य मिलता है। लोग ऐसा मानते है की ग्रहण में किया गया दान का अन्य दिनों से किये गए दानो से 1000 गुना ज्यादा पुण्य मिलता है।

Please follow and like us:
Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

error: Content is protected !!