america ban chinese apps

भारत की देखा देखी में अब अमेरिका भी टिकटोक समेत कई चीनी apps पर बैन लगाने के लिए सोच रहा है-माइक पॉम्पियो

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने कहां है कि अमेरिका भी निश्चित रूप से टिकटोक सहित कई चीनी एप्स पर बैन लगाने के लिए विचार कर रहा है।


अमेरिकी न्यूज़ फॉक्स को दिए गए इंटरव्यू में माइक पॉम्पियो ने कहा,”मैं राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के काम में दखल नहीं देना चाहता,लेकिन हम निश्चित रूप से इस बारे में विचार कर रहे हैं”। वहीं चीनी कंपनी टिकटोक ने कहा है कि चीन की कम्युनिस्ट सरकार की ओर से हांगकांग में नए सुरक्षा कानून लागू किए जाने के बाद कंपनी ने वहां से अपना डेटाबेस हटाने का निर्णय लिया है |


समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार कंपनी अगले कुछ दिनों में अपना काम समेट कर हांगकांग से निकल सकती है। चीनी कंपनी बाय डांसर टिक टॉक को अन्य देशों में अपनी पहुंच बढ़ाने के लिए तैयार किया था जिसे हाल ही में भारत सरकार ने सुरक्षा कांदे कारणों से बंद कर दिया है।


वाल्ट डिजनी के पूर्व सीईओ केबिन में फिलहाल टिक टॉक के सर्वोच्च अधिकारी हैं और उन्होंने हाल ही में कहा था कि टिकटों का इस्तेमाल करने वाले यूजर्स का डाटा चीन में स्टार्ट नहीं किया जाता है।


चीन द्वारा हांगकांग में सुरक्षा का कानून था पर जाने के बाद से ही व्हाट्सएप, फेसबुक, टि्वटर, टेलीग्राम और गूगल जैसे कई कंपनियां पहले ही घोषणा कर चुकी है कि वह अपने संचालन में हांगकांग से बदल बड़े बदलाव करने वाले हैं।

Please follow and like us:
Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

error: Content is protected !!