पतंजलि ने लॉन्च किया कोरोनिल

पतंजलि ने लॉन्च किया कोरोनिल

दुनिया भर मे कोरोना से संक्रमित मरीजो की संख्या बढती जा रही है। कई देशो मे कोरोना से मरने वालो की संख्या लगभग 1 लाख के पार हो चुकी है। कई देशो के डॉक्टरो ने कोरोना वायरस को ठीक करने के लिये कई ट्रायल बनाए जिनमे से बहुत सारे ट्रायल असफल रहे। किंतु डेक्सामेथासोन और फैबिफ्लू ने कई डॉक्टरो के उम्मीदो को बनाए रखा।

बाबा रामदेव ने पिछले हफ्ते कोरोना को ठीक करने करने के लिये दवा बनाने का दावा किया था और आज उन्होंने कोरोना की दवा तैयार कर ली हैं। उन्होंने अपनी इस आयुर्वेदिक दवा को कोरोनिल नाम दिया हैं। उनके अनुसार ये दवा 65 प्रतिशत कोरोना के मरिजो को ठीक करने मे सक्ष्म हैं। क्योकि उन्होंने अपनी इस दवा का ट्रायल 100 लोगो पर किया था जिनमे से तीन दिन के अंदर 65 लोग कोरोना पाजिटिव से कोरोना निगेटिव्ह हो गये। उन्होंने अपनी इस दवा को मंगलवार 23 जून को लॉन्च करने का दवा किया था।

बाबा रामदेव ने यह दावे के साथ कहा हैं कि यह पूरी दुनिया के लिये यह मील का पथ्थर साबित हो सकता है। उन्हे अपनी कम्पनी पर गर्व हैं कि जो काम पूरी दुनिया नही कर पायी उसे हमारी कम्पनी ने कर दिखाया।

उन्होंने बताया की इस दवा को बनाने मे वैज्ञानिको , शोधकर्ताओ और डाक्टरो का अहम योगदान हैं। इस दवा का निर्माण पतंजलि रिसर्च इन्स्टिट्यूट ( PRI ) और हरिद्वार अँड नॅशनल इन्स्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्स ( NIMS ) द्वारा किया जा रहा है।

आचार्य बालकृष्ण ने बताया कि जब चीन मे यह बिमारी फैली थी तभी उन्होंने अपने वैज्ञानिको शोधकर्ताओ और डाक्टरो को इस बिमारी का इलाज ढूंढने मे लगा दिया था और इसका सकारात्मक परिणाम अब सामने आया हैं।


आचार्य बालकृष्ण ने बताया कि इस दवा को तैयार करने के लिये हमे सबसे पहले शास्त्रो और वेदो का अध्ययन करना पडा इसके बाद निकले निष्कर्ष को हमने विज्ञान के सूत्र मे डालकर देखा तब कहीं जाकर हम इसमे सफल हो पाये हैं।

इस दवा को बनाने के लिये तमाम जडी बुटियो की आवश्यकता थी। उसे बानाने के लिये वैज्ञानिको को कडी मेहनत करनी पडी। पतंजलि के मुताबिक जब आरंभ मे कारोना फैलने लगी थी तभी उन्होंने अपने वैज्ञानिको को दवा बनाने के लिये लगा दिया था। एक ओर कोरोना मरीजो की संख्या मे निरंतर वृद्धि हो रही है तो वही दुसरी ओर बडी संख्या मे लोग अस्पताल से ठीक होकर घर भी लौट रहे हैं। आशा हैं कि अब कोरोना का बढना बंद हो जाएगा।

बता दे कि देश के करोडो डॉक्टर दवा बनाने मे जुटे हुए हैं।
पुरे विश्व मे कोरोना से संक्रमित लोगो की संख्या 91.65 लाख के पार हो चुकी है जिसमे से 4.73 लाख से ज्यादा लोगो की मौत भी हो चुकी है।


गौरतलब की बात तो यह हैं कि 49 लाख से ज्यादा लोग इस बिमारी से मुक्त हो चुके हैं। इसी बीच बाबा रामदेव ने कोरोनिल बनाकर पुरे विश्व का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर लिया हैं।

Please follow and like us:
Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

error: Content is protected !!