भारत की मदद करेगा रूस

चीन के खिलाफ भारत की मदद करेगा रूस , भारत को देगा S – 400 मिसाईल

आपको बता दे कि भारत और चीन मे हिंसक झडप होने के बाद भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह रूस की यात्रा करने गये थे, इसी दौरान मास्को ने भारत को यह विश्वास दिलाया की वो भारत को S – 400 मिसाईल डिफेन्स सिस्टम सप्लाय करेगा।

गलवान घाटी मे चल रहे हिंसक झडप के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह रूस की यात्रा पर गये हुए थे। तभी उन्हे रूस के उपप्रधांमंत्री युरी इवानोविक बोरिसोव ने भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को यह विश्वास दिलाया की वो S – 400 मिसाइल भारत को देंगे। हालांकि चीन ने रूस को मना किया था कि रूस भारत को कोई भी अडवांस हथियार न दे लेकिन रूस ने चीन की एक न सूनी और चीन के खिलाफ जाकर रूस ने भारत को S – 400 देने का वादा किया है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया की रूस द्वारा किये गये हर समझौते को जल्द ही पुरे किये जाएगे। भारत और रूस का नाता अटूट हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ये भी कहा कि हमारा सवांद बहुत ही सकारात्मक रहा। रूस के उपप्रधांमंत्री युरी इवानोविक बोरिसोव ने राजनाथ सिंह से कहा कि जो समझौते किये जा चुके हैं उन्हे पुरा अवश्य किया जायेगा।

भारत 5 अरब डॉलर मे 5 S – 400 खरीदेगा
रिपोर्ट के मुताबिक भारत जल्द ही S – 400 मिसाईल डिफेन्स रूस से चाहता था और रूस इससे सहमत हो गया है। वर्ष 2018 मे भारत ने 5 अरब डॉलर मे अर्थात 40,000 करोड 5 S – 400 खरीदने की मांग की थी। इसके अलावा भारत रूस से 31 फायटर जेट खरीदना चाहता है।

पहले रूस ने यह निर्णय लिया था कि वो डिसेंबर , 2021 तक भारत को S – 400 सप्लाय करेगा। रूस के उद्योग मंत्री डेनिस मतूंरोव ने भारत के लिये S – 400 फेब्रुवारी मे ही बनानेका एलान किया था। इससे पहले चीन ने रूस से अपील की थी कि वो विकट परिस्थिति मे भारत को अडवान्स मिसाईल न दे। चीन और भारत के बीच हिंसक झडप के बाद भारत रूस से 30 फायटर जेट खरीदना चाहता है जिसमे ‘MiG29′ और 12 सुखोई ’30MK’ मौजूद हैं।

Please follow and like us:
Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

error: Content is protected !!